100% गारंटी के साथ शीघ्रविवाह का 1अचूक उपाय तुरन्त हो जाता है विवाह||shadi ke upay ||astrology jamnagar

Published by admin on

नमस्कार दोस्तों पूजा ज्योतिष कार्यालय के ब्लॉग में आप सभी का बहुत-बहुत दोस्तों आज मैं आपके समक्ष ऐसा विवाह का शादी का प्रयोग रखने वाला हूं वह ब्रह्मास्त्र माना जाएगा. दोस्तों आपने अपने जीवन में बहुत से प्रयोग किए होंगे बहुत से उपवास किए होंगे बहुत से व्रत किए होंगे और तो भी आपको उसमें सफलता नहीं मिली है आपकी शादी नहीं हुई है तो, आज मैं जो प्रयोग देने वाला हूं वह ब्रह्मास्त्र है. –

दोस्तों अगर आपने इतना प्रयास करने के बाद भी आपको सफलता नहीं मिली है तो एक प्रयोग या करके देखिए और फिर उसका परिणाम देखिए. दोस्तों मेरे जीवन में मैंने जिसको भी यह प्रयोग दिया है आज मुझे सारे लोग याद करते हैं कि शास्त्री जी आपने जो प्रयोग दिया है और उस प्रयोग से हमारे जीवन में हमको सफलता प्राप्त हुई है. 95% अभी तक मुझे इस प्रयोग से सफलता मिली है इसलिए मुझे लगा कि यह वीडियो बनाकर आपके समक्ष जरूरी बातें शेयर करनी चाहिए. यह प्रयोग देना चाहिए और कोई भी प्रयोग दोस्तों मैं सबसे पहले मैं अपने यजमानो पर अनुभव सिद्ध करके आपके समक्ष में रखता हूं. जब तक अनुभव ना हो तब तक यह प्रयोग में किसी के पास रखता ही नहीं.

 

Astrologer Jamnagar Job pane ke saral upay||Makar Rashi NuKari Ke Acchuk Upay video||astrology jamnagar

दोस्तों अगर आपकी उम्र बीत रही है और आपको शादी की परेशानी बहुत आपको सता रही है और आपकी शादी नहीं हो रही है तो यह प्रयोग आपके लिए ब्रह्मास्त्र है. दोस्तों यह प्रयोग पूरा विस्तार आपके समक्ष रखो उनसे पूर्व मेरे छोटे से गुजारिश है जो मेरे नहीं दर्शक मेरे दोस्त हमारा चैनल / ब्लॉग देख रहे हैं दोस्तों एक बार सब्सक्राइब जरूर कीजिए साथी यह वीडियो आपको पसंद आए तो जरुर लाइक का बटन दबाइए अपने दोस्तों में ज्यादा से ज्यादा शेयर कीजिए.

आपके दोस्त होंगे और उसकी शादी नहीं हो रही है तो उसका आशीर्वाद आपको प्राप्त होगा दोस्तों. अगर मेरे सारे वीडियो आप अपने मोबाइल पर देखना चाहते हैं तो प्ले स्टोर में से एक एप्लीकेशन का नाम है पूजा ज्योतिष कार्यालय मेरे सारे वीडियो अब देख पाएंगे. ये वीडियो / लेख पूरा सुनिए या पढ़िए सुनने के बाद फिर प्रयोग कीजिए आधा अधूरा ज्ञान हमारे जीवन में प्रगतिशील नहीं या आधा अधूरा प्रयोग भी हमें फल प्राप्त नहीं करा था इसलिए पूरा वीडियो सुनिए सुनने के बाद आप प्रयोग कीजिए. और यह प्रयोग किसके लिए है जिसने बहुत से इतना उपवास से कर लिए इसके लिए ब्रह्मास्त्र.

आपकी उम्र नहीं हुई आपने प्रयोग नहीं किए तो दोस्तों यह प्रयोग आपके लिए उचित नहीं है तो आपकी उम्र होने वाली है तो यह प्रयोग कीजिए. दोस्तों जन्म कुंडली में शादी के लिए दो ग्रहो को स्थान दिया गया जिसमें सबसे स्थान मंगल और शनि और मंगल शनि के बारे में मैंने बहुत सी जानकारी आपके समक्ष रखी है वह भी वीडियो जरूर देखिए.  मंगल और शनि शादी में विवाद भी कराते हैं और शादी कराते हैं और शादी का सुख भी वो दोनों ग्रह आपको प्रदान करते हैं.

तो आज मैं जो प्रयोग देने वाला हूं वह शनि का है. दोस्तों जिसने भी शनि की उपासना की है उसकी सारी कामना भगवान जरूर शनिदेव ने पूर्ण की हैं और भगवान  शनि देव के आराध्य देव है? भगवन महादेव .  महादेव जो बड़े भोले हैं छोटी सी उपासना से भोले प्रसन्न हो जाते हैं . दोस्तों सनी और शंकर भगवान के कथा छोटी सी कब से शनिदेव भगवान महादेव के परम भक्त बन ,

दोस्तों एक बार ऐसा हुआ कि भगवान शनिचर कैलाश पर्वत में गई और भगवान के ऊपर युद्ध करना शुरू कर दिया भगवान भोलेनाथ, लेकिन भोलेनाथ के जो गण नंदीश्वर है उसके सामने युद्ध किया लेकिन  परास्त हो गए. फिर दोस्तों भैरव ने भी युद्ध किया वह भी परास्त हो गए. तब भगवान को बड़ा क्रोध आया भगवान महादेव को बड़ा क्रोध आया और अपने त्रिशूल से वार किया और उस  त्रिशूल से भगवान शनि बचना चाहते थे इसलिए अपने दृष्टि भगवान भोलेनाथ पर डाली,   और भगवान भोलेनाथ ने जो किया अपने तीसरी नेत्र को खोलने की शुरुआत की जब भगवान तीसरी नेत्र खोलने का तैयार हुए तो सूर्यनारायण भगवान प्रकट हुए सब देवा गए और भगवान भोलेनाथ को प्रार्थना करने लगे सूर्यनारायण भगवान का पुत्र है , भगवान शनिदेव और सूर्यनारायण भगवान कहने लगे किसी एक का कुसूर होने से सारी पृथ्वी का प्रलय हो जाएगा आप तीसरा नेत्र खोलेंगे सारी पृथ्वी का प्रलय हो जाएगा. बार-बार देवो भी विनती करने लगे तब भोलेनाथ प्रसन्न हुए और  शनि देव को माफ किया और शनिदेव को माफ करने से शनिदेव ने भी अपनी गलती स्वीकार हो तब से ही शनि भगवान भोलेनाथ के बड़े भक्त हो गए .

Astrologer Jamnagar राशि अनुसार क्या दान करें||kismat ko chamkane ke upay

 

आज ऐसा ही प्रयोग में आपके समक्ष रखने वाला हूं दोस्तों चमत्कार है जिसने जिसने प्रयोग किया है उसकी विवाह की तारीख  पक्की हो गई है और मैं आज कह रहा हूं दोस्तों आप प्रयोग करें मैं आज से आपको शुभकामना दे रहा हूं. दोस्तों यह प्रयोग आपको कब से करना है? शनिवार से स्टार्ट करना है शनिवार के दिन एक बड़ा लंबा काला धागा लेना है जहां वे शंकर भगवान का मंदिर हो या शनिचर भगवान का मंदिर और वहां पीपल का वृक्ष हो वह आपको जाना है और जो काला धागा आपने लिया है वह काला धागे से आपको जो पिपल का वृक्ष है वहां आपको 11 बार प्रदक्षिणा करके वह धागा 11 बार आपको बांधना है और जब यह धागा बांधते हुए तब आपको क्या बोलना है वह आप लोग श्लोक देख लीजिए आगे भी पूरा प्रयोग अभी बाकी है दोस्तों पूरा सुनने फिर प्रयोग कीजिए .

अब दोस्तों आपको जब काला धागा बांध लें तब आपको इस श्लोक का पठन करना जरूरी है दोस्तों लिख लीजिए

ॐ शं शंकराय सकल जन्मार्जित पाप विध्वंस नाय पुरुषार्थ चतुस्टय लाभाय च पतिं मे देहि कुरु-कुरु स्वाहा

। Om Shang Shankaray Sakal Janmarjit paap Vidhvans Naay Purusharth Chatustay Labhay ch Patim me Dehi Kuru-Kuru Swaha ||

 पुरुष प्रयोग कर रहा है तो यहां आपको पत्नी बोलना है एक शब्द में पूरा प्रयोग आ जाएगा दोस्तों यह श्लोक पूरा सुनिए और जहां आपको क्या बोलना है कोई लेडीस कर रहे हैं तो आपको पतिं बोलना है और कोई जेंट्स कर रहा है कोई पुरुष कर रहा है तो वहां आपको पत्नी बोलना है इतना ही फर्क है दोस्तों.

दोस्तों आपको प्रदिक्षणा के समय यह श्लोक बोलना है दोस्तों और शनिवार के दिन आपके घर पर या भगवान सनी भगवान के मंदिर या शंकर भगवान के मंदिर आपको बैठकर इसकी आपको तीन माला करनी है. तीन माला करके दोस्तों जिस का भी मंदिर हो वहां भगवान को नमस्कार करना है शंकर भगवान का मंदिर भगवान का मंदिर हो और भगवान को बड़े भाव से विश्वास के साथ प्रार्थना करनी है कि भगवान  बहुत ही प्रयत्न करलिए है बहुत ही उपवास कर लिए है लेकिन आज तक मेरी शादी के कोई तारीख नहीं हुई. तो आज आपके समक्ष में यह प्रयोग कर रही हूं या कर रहा हूं आप मेरे ऊपर कृपा हो.

 

क्या है नामकरण संस्कार, इसका महत्व व आवश्यकता||अपने बच्चे का नाम कैसे रखे।| astrologer jamnagar

 

दोस्तों आपको शनिवार को प्रयोग करना है और 11 शनिवार तक आपको करना है लेकिन यह शनिवार दूसरा शनिवार आए तब आपको माला का एक बड़ा देना है पहले जब प्रयोग की शुरुआत करें तब आपको तीन माला करनी है दूसरा शनिवार चार माला करनी है और शनिवार को बढ़ते जाना है दोस्तों मुझे लग रहा है आपको सात शनिवार नहीं होंगे  लेकिन  आपको भाव से करना होगा करना जरूरी है और साथ ही दोस्तों 11 शनिवार आए तब आपको जहां भी मंदिर यह प्रयोग कर रहे हैं वहां आपको या आपके घर जाकर आपको 3 जी को खाना खिला दोस्तों प्रयोग पूर्ण हो जाए बाद अगर आपकी शादी हो जाए तो प्रयोग नहीं करना है तो सिर्फ खाना आपको पंडित जी को खिलाना है और कुछ व्यस्त रहो दक्षिणा आपके शक्ति के अनुसार दान करना है दोस्तों प्रयोग करके मुझे आप जरूर कहेंगे दोस्तों ऐसा ही प्रयोग सिद्ध प्रयोग आपके समक्ष में रखता रहूंगा आप जो हमें प्यार दे रहे हैं उस प्यार के लिए आप सभी को मेरा दिल से नमस्कार.

Manikya

Heera

Panna

Pukhraj

Moti

Moonga

Lehsunia / Cats Eye